डिजिटल गोल्ड क्या है और ऑनलाइन सोना कैसे खरीदें, फायदे, नुकसान

डिजिटल गोल्ड क्या है और ऑनलाइन सोना कैसे खरीदें, फायदे, नुकसान

सोने में निवेश को सुरक्षित माध्यम माना जाता रहा है परंतु वर्तमान समय में ऑनलाइन सोना में निवेश का एक अतिरिक्त माध्यम भी अस्तित्व में आया है- डिजिटल गोल्ड। परंपरागत सोने की खरीद की अपेक्षाकृत डिजिटल गोल्ड द्वारा सोने की खरीद की शुरुआत एक रुपए की न्यूनतम राशि से भी की जा सकती है। इसके अलावा सोने का मूल्य भी ऐतिहासिक ऊंचाइयों पर पहुंच चुका है। इस पोस्ट में हम जानेंगे कि डिजिटल गोल्ड क्या है और ऑनलाइन सोना कैसे खरीदें।

इस लेख में डिजिटल गोल्ड से संबंधित सभी विषयों पर चर्चा करेंगे जिसके द्वारा आप जान पाएंगे कि परंपरागत सोने की खरीद की अपेक्षाकृत डिजिटल गोल्ड निवेशक को अनेकों विकल्प एवं लाभ प्रदान करता है अथवा नहीं। निवेशक अपनी इच्छा अनुसार अपने द्वारा खरीदे गए सोने को उसी प्लेटफार्म पर बेच सकते हैं अथवा उसकी डिलीवरी शुल्क के साथ होम डिलीवरी प्राप्त कर सकते हैं।

डिजिटल गोल्ड क्या है?

डिजिटल गोल्ड का अर्थ है भौतिक (फिजिकल) रूप से सोने की अपेक्षाकृत अभौतिक (डिजिटल) रूप से सोने में निवेश करना। डिजिटल गोल्ड में निवेश के लिए निवेशकों के पास मोबाइल या इंटरनेट बैंकिंग उपलब्ध होना अनिवार्य है जिसके द्वारा वे कभी भी, कहीं से भी डिजिटल गोल्ड में निवेश कर सकते हैं एवं उससे संबंधित गतिविधियों को नियंत्रित कर सकते हैं।

डिजिटल गोल्ड में निवेश परंपरागत तरीके द्वारा सोने में निवेश की अपेक्षाकृत फायदेमंद है क्योंकि डिजिटल गोल्ड में निवेश के द्वारा निवेशक को 24 कैरेट शुद्ध सोने की प्राप्ति होती है एवं यह एक लागत-प्रभावी माध्यम भी है क्योंकि इसमें निवेशकों द्वारा न्यूनतम ₹100 से भी निवेश किया जा सकता है एवं न्यूनतम भंडारण शुल्क लागू होते हैं।

डिजिटल गोल्ड पूर्ण रूप से पारदर्शी है क्योंकि इसमें सभी प्रकार के लेनदेन वर्तमान मार्केट मूल्यों पर आधारित होती है।

डिजिटल गोल्ड किस प्रकार कार्य करता है?

डिजिटल गोल्ड में अनेकों प्लेटफार्म के उपयोग द्वारा निवेश किया जा सकता है उदाहरण के तौर पर गूगल पे, फोन पे एवं पेटीएम इत्यादि। डिजिटल गोल्ड में मुख्यतः तीन कंपनियां(ऑगमेंट गोल्ड लिमिटेड, डिजिटल गोल्ड इंडिया प्राइवेट लिमिटेड एवं एमएमटीसी-पीएएमपी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड) निवेश प्रदान करती है।

जब किसी निवेशक द्वारा डिजिटल गोल्ड में निवेश किया जाता है तब उपरोक्त कंपनियों द्वारा निवेश की गई राशि के समतुल्य भौतिक सोना खरीद कर निवेशक के नाम से सुरक्षित रखा जाता है।

ऑनलाइन सोना कैसे खरीदें?

डिजिटल गोल्ड में निम्न प्रक्रिया का पालन करके निवेश किया जाता है:

  • सबसे पहले आपको एक सेवा प्रदाता के साथ एक खाता खोलना होगा जो आपको ऑनलाइन सोना खरीदने में मदद कर सकता है। मैं व्यक्तिगत रूप से आपको डिजिटल गोल्ड में निवेश करने के लिए निम्नलिखित प्लेटफार्मों में खाता खोलने की सलाह देता हूं:
  • उसके उपरांत ‘गोल्ड वॉलेट’ या ‘गोल्ड लॉकर’ सेक्शन पर पहुंचा जाता है।
  • उसके उपरांत निवेशक द्वारा कीमत या भार के आधार पर मान दर्ज किया जाता है।
  • उसके उपरांत निवेशक द्वारा केवाईसी संपूर्ण की जाती है।
  • उसके उपरांत निवेशक द्वारा अनेकों भुगतान के माध्यमों(इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, वॉलेट) में से किसी एक के द्वारा भुगतान किया जाता है।
  • भुगतान के तुरंत उपरांत निवेशक का अकाउंट अपडेट हो जाता है एवं निवेशक द्वारा खरीदा गया सोना कंपनी द्वारा पूर्ण रूप से सुरक्षित संग्रहित कर लिया जाता है।
  • निवेशक द्वारा खरीदे गए सोने को निवेशक द्वारा अपनी इच्छानुसार कभी भी उसी प्लेटफार्म द्वारा बेचा भी जा सकता है।
  • इसके अलावा, निवेशक यदि चाहे तो खरीदे गए सोने की होम डिलीवरी भी प्राप्त कर सकता है। इसके लिए निवेशक को डिलीवरी शुल्क का भुगतान करना होता है।

डिजिटल गोल्ड के फायदे

डिजिटल गोल्ड निवेशकों के लिए अनेकों प्रकार से लाभदायक सिद्ध होता है। डिजिटल गोल्ड में निवेश के कुछ फायदे यहां दिए गए हैं:

  • असीमित न्यूनतम एवं अधिकतम निवेश: डिजिटल गोल्ड में निवेश की कोई न्यूनतम सीमा नहीं है। निवेशक अपनी क्षमता के अनुसार निवेश के लिए स्वतंत्र होते हैं।
  • कॉलेटरल सिक्योरिटी: डिजिटल गोल्ड का उपयोग निवेशक कॉलेटरल सिक्योरिटी के रूप में भी कर सकते हैं अर्थात वे इसे ऋण प्राप्त करने के लिए जमानत के रूप में रख सकते हैं।
  • गुणवत्ता: डिजिटल गोल्ड में निवेशक को गुणवत्ता को लेकर किसी भी प्रकार का समझौता करने की आवश्यकता नहीं पड़ती है क्योंकि डिजिटल गोल्ड निवेशक को 24 कैरेट सोना प्रदान करता है।
  • तत्काल रिडेंप्शन: डिजिटल गोल्ड के द्वारा निवेशक अपने निवेश को सरलता पूर्वक रिडीम कर सकते हैं अर्थात वे इसे अपनी इच्छानुसार भौतिक सोने या नकदी में परिवर्तित कर सकते हैं।
  • नवीनतम जानकारी: डिजिटल गोल्ड की सेवा प्रदान करने वाले प्लेटफार्म अपने निवेशकों को सोने के मूल्य में हो रहे परिवर्तन की निरंतर जानकारी प्रदान करते हैं जिसके अनुसार निवेशक ट्रेडिंग करते हैं।
  • बीमाकृत एवं सुरक्षित: डिजिटल गोल्ड बीमाकृत एवं पूर्ण रूप से सुरक्षित निवेश है क्योंकि निवेशक द्वारा खरीदा गया सोना कंपनी द्वारा निवेशक के नाम के अधीन पूर्ण रूप से सुरक्षित रखा जाता है।
  • वर्तमान मूल्य: डिजिटल गोल्ड निवेशकों को वर्तमान मार्केट मूल्यों पर आधारित ट्रेडिंग प्रदान करता है जिसके उपयोग द्वारा निवेशक दीर्घकालिक अच्छे रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं।
  • सरल ट्रैकिंग: डिजिटल गोल्ड निवेशकों को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के रूप में सरल ट्रैकिंग प्रदान करता है जिसके फलस्वरूप निवेशक किसी भी स्थान से, किसी भी समय अपने निवेश के अपडेट चेक कर सकते हैं एवं उसके अनुसार ट्रेडिंग कर सकते हैं।

डिजिटल गोल्ड के नुकसान

डिजिटल गोल्ड निवेशकों के लिए अनेकों प्रकार से हानिकारक भी सिद्ध सकता है:

  • अतिरिक्त आय: डिजिटल गोल्ड निवेशकों को सोने के मूल्य में बढ़ोतरी के अतिरिक्त अन्य किसी भी प्रकार से आय प्रदान नहीं करता है।
  • अधिकतम निवेश सीमा: अधिकतर ऑनलाइन प्लेटफार्म पर डिजिटल गोल्ड में निवेश की अधिकतम सीमा ₹200000 है।
  • धारण अवधि: अधिकतर ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर डिजिटल गोल्ड के धारण की अधिकतम अवधि सुनिश्चित की गई है। इस निर्धारित धारण अवधि के पश्चात निवेशक डिजिटल गोल्ड को फिजिकल गोल्ड या नकदी में परिवर्तित करने के लिए बाध्य होते हैं।
  • नियामक प्राधिकरण: डिजिटल गोल्ड में निवेश प्रदान करने वाली कंपनियां आरबीआई अथवा सेबी जैसी नियामक प्राधिकरण के अधीन नहीं है इसलिए ग्राहकों के हितों की रक्षा पूर्ण रूप से संभव नहीं है।
  • शुल्क: डिजिटल गोल्ड निवेशकों पर अनेकों शुल्क लागू करता है उदाहरण के तौर पर भंडारण शुल्क, प्रबंधन शुल्क, आदि।

ऑनलाइन सोना कैसे खरीदें?

वे निवेशक जो अधिक निवेश शुल्क, भंडारण शुल्क तथा किसी अन्य शुल्क को सहन नहीं कर सकते है, इस प्रकार के निवेशकों के लिए डिजिटल गोल्ड सर्वोत्तम है। इसके अलावा निवेशकों द्वारा खरीदे गए सोने की सुरक्षा के लिए उन्हें चिंतित होने की भी आवश्यकता नहीं होती है एवं वे एक छोटी सी राशि के द्वारा भी डिजिटल गोल्ड में निवेश कर सकते हैं।

डिजिटल गोल्ड संपूर्ण रूप से ऑनलाइन उपलब्ध होने के कारण निवेशक इससे संबंधित सभी गतिविधियां एक स्थान से ही कर सकता है उदाहरण के तौर पर सोने के मूल्य में होने वाले उतार चढ़ाव से अवगत होना, सोने की खरीद-फरोख्त करना, डिजिटल गोल्ड को फिजिकल गोल्ड में परिवर्तित करना एवं फिजिकल गोल्ड की होम डिलीवरी प्राप्त करना आदि।

निष्कर्ष: डिजिटल गोल्ड निवेशकों के लिए अनेकों प्रकार से लाभप्रद है। डिजिटल गोल्ड में निवेश संपूर्ण रूप से ऑनलाइन है। डिजिटल गोल्ड में ₹100 की न्यूनतम राशि के साथ भी निवेश किया जा सकता है। डिजिटल गोल्ड में निवेशक द्वारा खरीदा गया सोना संपूर्ण रूप से सुरक्षित रहता है। डिजिटल गोल्ड मे निवेश से प्राप्त सोना 24 कैरेट होता है।

डिजिटल गोल्ड मुद्रा जोखिम, मुद्रास्फीति, बाजार की अस्थिरता जैसे हालातों से प्रभावित एवं सुरक्षित रहता है। डिजिटल गोल्ड वित्तीय विविधीकरण प्रदान करता है। डिजिटल गोल्ड निवेशक की आवश्यकतानुसार भौतिक सोना अथवा नकदी प्रदान करते हैं। डिजिटल गोल्ड निवेशक को सोने के वर्तमान मूल्य के आधार पर उत्तम पुनर्बिक्री कीमत (रीसेल वैल्यू) प्रदान करता है।

डिजिटल गोल्ड अनेकों प्रकार से लाभप्रद होने के बावजूद कुछेक चुनौतियों से भी परिपूर्ण है। डिजिटल गोल्ड में निवेशकों के हितों की रक्षा के लिए नियामक प्राधिकरण(आरबीआई एवं सेबी) उपलब्ध नहीं है। डिजिटल गोल्ड निवेशकों को सोने के मूल्य में बढ़ोतरी के अतिरिक्त अन्य किसी भी प्रकार से आय प्रदान नहीं करता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.