कैसे जाने कि बीमा कंपनी पंजीकृत है या नहीं

कैसे जाने कि बीमा कंपनी पंजीकृत है या नहीं

हर देश में बीमा उत्पादों और बीमा कंपनियों पर निगरानी रखने के लिए एक अथॉरिटी बनाई जाती है जो बीमा कंपनियों को पंजीकरण देती है और तय करती है कि कौन सा बीमा उत्पाद वह बेच सकती है। भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (आईआरडीएआई) की देखरेख में भारत में बीमा उद्योग बहुत तेजी से बढ़ रहा है। आईआरडीएआई संस्था भारत सरकार द्वारा बीमा क्षेत्र को चलाने और विकसित करने के लिए बनाई गई है। यह बीमा कंपनियों को लाइसेंस जारी करती है और सभी बीमा कंपनियों पर निगरानी रखती है। यह सुनिश्चित करती है कि यह कंपनियां सही तरीके से बीमा पॉलिसी बेचे। आज हम जानेंगे कि कैसे पता करें बीमा कंपनी पंजीकृत है या नहीं।

भारत में बीमा के शुरुआती दिनों में बीमा कंपनियों द्वारा बहुत सारे धोखाधड़ी के मामले सामने आने पर आईआरडीएआई ने बहुत सख्त कानून बनाए जिसके बाद भारत में बीमा बाजार तेजी से बड़ा। आईआरडीएआई की वेबसाइट पर जाकर यह देखा जा सकता है कि कोई बीमा कंपनी पंजीकृत है या नहीं।

इसी तरह अगर आप किसी और देश से हैं तो आप अपने देश की अथॉरिटी, जो आपके देश में बीमा सेक्टर को नियंत्रित करती है, की वेबसाइट पर जाकर किसी बीमा कंपनी का पंजीकरण देख सकते हैं।

हमें हमेशा जीवन बीमा, मोटर बीमा, या स्वास्थ्य बीमा खरीदने से पहले यह देखना चाहिए की हमारी बीमा कंपनी रजिस्टर्ड है या नहीं। पॉलिसीधारकों के हितों की रक्षा के लिए, आईआरडीएआई पंजीकृत बीमा कंपनियों की सूची अपनी वेबसाइट पर समय-समय पर अपडेट करती रहती है।

जब भी यह एक नया लाइसेंस जारी करती है या बीमाकर्ता के पंजीकरण को रद्द करती है तो इसे अथॉरिटी की ऑफिशल वेबसाइट पर डाल दिया जाता है।

जैसा ऊपर बताया गया है, आईआरडीएआई निजी क्षेत्र की बीमा कंपनियों के साथ-साथ सार्वजनिक क्षेत्र की बीमा कंपनियों पर घनिष्ठ नजर रखती है, इसलिए अगर कोई बीमा कंपनी नियमों और शर्तों का पालन नहीं करती है तो ऐसी कंपनी की मान्यता रद्द कर दी जाती है। और उसे देश में बीमा उत्पाद बेचने की अनुमति नहीं होती है।

ध्यान दें: बीमा कंपनियों को निश्चित अवधि के लिए लाइसेंस दिया जाता है और उन्हें उस अवधि के बाद उस लाइसेंस को रिन्यू कराना पड़ता है। अगर कोई कंपनी ऐसा नहीं करती है तो उसका लाइसेंस रद्द होने के बाद उसको बीमा उत्पाद बेचने की मनाही होती है। इसीलिए बीमा पॉलिसी खरीदने से पहले जांच करना आवश्यक हो जाता है कि बीमा कंपनी पंजीकृत है या नहीं।

कैसे जाने कि बीमा कंपनी पंजीकृत है या नहीं

भारत में बीमा कंपनी के पंजीकरण की जांच कैसे करें – How to check if an insurance company is legitimate

बीमा कंपनी पंजीकृत है या नहीं जानने के लिए, आईआरडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं (आईआरडीए की वेबसाइट (https://www.irdai.gov.in) को खोजने के लिए Google पर IRDAI टाइप करें) और नीचे दिए गए चरणों का पालन करें।

पढ़िए: ट्रेडिंग अकाउंट कैसे खोलें

जीवन बीमा कंपनियों की लिस्ट देखने के लिए:

वेबसाइट के होमपेज पर पहुंचने के बाद, आपको साइडबार में ‘Insurers’ लिखा हुआ मिलेगा अपना माउस कर्सर उस पर लेकर जाए और फिर आपको कुछ और ऑप्शन दिखेंगे उनमें से ‘Life’ पर माउस कर्सर ले जाए। उसके बाद ‘List of Insurers’ पर क्लिक करें। आगे आप जीवन बीमा कंपनियों की सूची देख पाएंगे। अगर आपकी बीमा कंपनी उस सूची में नहीं है तो इसका मतलब है कि आपकी बीमा कंपनी पंजीकृत नहीं है। आप हमारी वेबसाइट पर भी जीवन बीमा कंपनियों की सूची देख सकते हैं।

पढ़िए: शेयर बाजार में कैसे निवेश करें

नोन-लाइफ इंश्योरेंस या जनरल इंश्योरेंस कंपनियों जैसे कि स्वास्थ्य बीमा, गृह बीमा, यात्रा बीमा, मोटर बीमा इत्यादि की सूची के लिए:

वेबसाइट पर पहुंचने के बाद, ‘Insurers’ पर अपना माउस कर्सर ले जाएं, फिर दिख रहे हो ऑक्शन में से ‘General’ पर जाएं और ‘List of Insurers’ चुनें। आगे आप जनरल इंश्योरेंस कंपनियों की सूची देख पाओगे।

नोट: जीवन बीमा को छोड़कर सभी बीमा उत्पाद जनरल बीमा के अंतर्गत आते हैं।

हमने यहां पर भी पंजीकृत जीवन बीमा कंपनियों, स्वास्थ्य बीमा कंपनियों, और गैर-जीवन/सामान्य बीमा कंपनियों की सूची भी प्रदान की है; आप हमारे द्वारा प्रदान की गई सूची को भी देख सकते हैं। अन्यथा आप ऊपर दिए गए चरणों का पालन करके पंजीकृत बीमा कंपनियों की आईआरडीएआई की आधिकारिक सूची देख सकते हैं।

यदि आप बीमा पॉलिसी खरीद रहे हैं तो सर्वोत्तम स्वास्थ्य बीमा या जीवन बीमा पॉलिसी का चयन करने के लिए कुछ सरल लेकिन प्रभावी बातों को जाने बिना इंश्योरेंस ना खरीदे। बीमा पॉलिसी कुछ बहिष्कारों के अधीन हैं; इसलिए, बीमा पॉलिसी खरीदने से पहले पढ़ना चाहिए, “आपकी बीमा पॉलिसी क्या कवर करती है और क्या नहीं?”

जैसे कि ऊपर बताया गया है कि बीमा कंपनियों को समय-समय पर अपना लाइसेंस रिन्यू करवाना पड़ता है तो इसलिए जब भी कोई बीमा खरीदें तो उससे पहले बीमा कंपनी के पंजीकरण की जांच कर ले।

“कैसे जाने कि बीमा कंपनी पंजीकृत है या नहीं” को एक उत्तर

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *