स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग कैसे करें?

स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग कैसे करें?

एक नए निवेशक के तौर पर शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करना एक जटिल प्रक्रिया है। अक्सर यह देखा गया है कि बहुत लोग स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग करना चाहते हैं लेकिन उनको पता नहीं होता है कि स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग कैसे करें। हाल ही के दिनों में स्टॉक मार्केट में रिटेल इन्वेस्टर की तेजी से बढ़ोतरी हुई है। विकसित देशों में रिटेल इन्वेस्टर का स्टॉक मार्केट में योगदान तकरीबन 40% से ज्यादा होता है लेकिन भारत में अभी तक यह प्रतिशत बहुत कम है जो कि लगभग 5% के करीब है। स्टॉक मार्केट एक अच्छा करियर ऑप्शन हो सकता है अगर इसको सही तरीके से सीखा जाए।

यदि आप जानना चाहते हैं कि स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग कैसे करें तो इसका आसान और सरल जवाब यह है कि आप अपना डिमैट अकाउंट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट खोलकर स्टॉक मार्केट में निवेश करना शुरू कर सकते हैं।

आपकी जानकारी के लिए स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग करने के लिए आप ₹500 से भी शुरुआत कर सकते हैं। एक बार ट्रेडिंग आ जाने पर आप अच्छी पूंजी के साथ चैटिंग करके इसमें अच्छा करियर बना सकते हैं और अच्छा लाभ कमा सकते हैं।

ट्रेडिंग क्या है

हमारी पिछली पोस्ट में हमने जाना था कि भारत के मशहूर स्टॉक ब्रोकर कौन से हैं जिनके साथ हम अपना डिमैट अकाउंट हो सकते हैं। यह स्टॉक ब्रोकर पार्थ के मशहूर स्टॉक ब्रोकर में से एक हैं और इनका ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म बहुत ही अच्छा है और अत्यधिक इंडिकेटर और अच्छे ट्रेडिंग टूल्स के साथ लेस होता है जिससे कि आप अच्छी और लाभदायक ट्रेड ले सकते हैं और अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

मैं व्यक्तिगत तौर पर नीचे दिए गए स्टॉक ब्रोकर में आपको अकाउंट खोलने की सलाह देता हूं:

अगर आप अपना डिमैट अकाउंट इन स्टॉक ब्रोकर से फुलवा ते हैं तो आपका डिमैट अकाउंट ट्रेडिंग अकाउंट और सेविंग बैंक अकाउंट एक ही जगह से लिंक हो जाता है आप इनके डैशबोर्ड से आराम से ट्रेडिंग कर पाते हैं। आपकी जानकारी के लिए ट्रेडिंग अकाउंट खोलने के लिए आपको ज्यादा समय नहीं लगता है ट्रेडिंग अकाउंट को सिर्फ 15 मिनट में खोला जा सकता है।

ऊपर दिए गए स्टॉक ब्रोकर से अकाउंट खुलवाने के लिए आपको किसी तरह के कागज पोस्ट या जमा करवाने की जरूरत नहीं होती है। सारी प्रोसेस ऑनलाइन होती है और आपका अकाउंट 24 से 48 घंटे में तैयार हो जाता है और उसके बाद आप स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग करना शुरू कर सकते हैं।

आपकी जानकारी के लिए स्टॉक मार्केट में निवेश करने से सिर्फ लाभ ही नहीं होता है इसमें हानि होने की भी उतनी ही संभावनाएं होती हैं। इसीलिए स्टॉक मार्केट में निवेश करने से पहले अच्छी तरह से सीख लेना चाहिए और उसके बाद ही इस में पूजी लगानी चाहिए।

यदि आप शेयर मार्केट में निवेश के बारे में सोच रहे हैं तो आप कुछ औपचारिकताएं पूर्ण करनी होंगी और कुछ अकाउंट जैसे कि डिमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट भी ओपन करने होंगे। नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करके आप शेयर मार्केट में ट्रेडिंग की शुरुआत कर सकते हैं।

डीमैट खाता खोलने के लिए दस्तावेज

  • पैन कार्ड प्राप्त करे: सबसे पहली औपचारिकता है कि आपके पास अपना पैन कार्ड होना चाहिए। सभी तरह की फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन के लिए पैन कार्ड का होना अति अनिवार्य है, इसलिए आपके पैन कार्ड में किसी भी प्रकार की त्रुटि या कमी नहीं होनी चाहिए।
  • आय प्रमाण: आपके पास आपकी आय का सबूत प्रमाण चाहिए। इसके लिए आप अपने पिछले 6 महीने की बैंक अकाउंट स्टेटमेंट का उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा आप अपना इनकम टैक्स स्टेटमेंट या सैलरी स्लिप या फॉर्म 16 दे सकते हैं।
  • निवास प्रमाण पत्र: आपको अपने स्थाई पते का प्रूफ जैसे ही आधार कार्ड, वोटर कार्ड इत्यादि भी देना पड़ता है।
  • स्टॉक ब्रोकर: शेयर मार्केट में रजिस्टर्ड कंपनिओं के शेयर निवेशक सीधे तौर पर नहीं खरीद सकते हैं। इसके लिए उन्हें किसी मध्यस्था की आवश्यकता होती है। फाइनैंशल ब्रोकर वह व्यक्ति, संस्था या कंपनी होती है जो स्टॉक एक्सचेंज और निवेशक के बीच में संपर्क स्थापित करती है। निवेशक को उस स्टॉक ब्रोकर का चुनाव करना चाहिए जो प्रत्येक ट्रांजैक्शन पर कमीशन चार्ज करने के स्थान पर एक समान दर से ब्रोकरेज शुल्क चार्ज करता है। ऊपर हमने भारत के मशहूर स्टॉक ब्रोकर के अकाउंट ओपनिंग के लिंक दिए हैं।
  • डिमैट अकाउंट: डिमैट अकाउंट में निवेशकों द्वारा खरीदे गए एवं बेचे गए शेयर का रखरखाव इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से होता है। जब भी कोई निवेशक शेयर खरीदना है तो शेयर कि वह संख्या उसके डिमैट अकाउंट में क्रेडिट हो जाती है और उसके विपरीत जब भी कोई निवेशक शेयर बेचता है तो शेयर की वह संख्या उसके डिमैट अकाउंट से डेबिट हो जाती है। डिमैट अकाउंट खोलने की प्रक्रिया को जाने के लिए क्लिक करें।
  • ट्रेडिंग अकाउंट: ट्रेडिंग अकाउंट खरीदने एवं बेचने की सुविधा प्रदान करता है। यह आपके बैंक अकाउंट और आपके डिमैट अकाउंट के बीच में संबंध स्थापित करता है। इसका प्रमुख कार्य होता है आपके डीमैट अकाउंट के शेयर्स को निकालना तथा उन्हें स्टॉक एक्सचेंज में बेचना। आमतौर पर यह कार्य आपके स्टॉक ब्रोकर के द्वारा किया जाता है। ट्रेडिंग अकाउंट अलग से नहीं खुलवाना पड़ता है जिस स्टॉक ब्रोकर के साथ आप अपना डिमैट अकाउंट खोलते हो उसी समय आपका ट्रेडिंग अकाउंट भी खोल दिया जाता है इसके लिए अलग से कोई प्रक्रिया नहीं होती है।
  • बैंक अकाउंट: आपका बैंक अकाउंट आपके डिमैट अकाउंट तथा ट्रेडिंग अकाउंट से लिंक होना चाहिए। जब भी कोई निवेशक शेयर खरीदा है तो निवेशक का बैंक अकाउंट शेयर के मूल्य से डेबिट होता है और निवेशक का डिमैट अकाउंट शेयर की संख्या से क्रेडिट होता है। इसके विपरीत जब भी कोई निवेशक शेयर बेचता है तो निवेशक का बैंक अकाउंट शेयर के मूल्य से क्रेडिट होता है और निवेशक का डिमैट अकाउंट शेयर की संख्या से डेबिट होता है।
  • मोबाइल नंबर: आपके पास एक एक्टिव मोबाइल नंबर होना चाहिए जो कि आपके बैंक अकाउंट से जुड़ा होना चाहिए और उसको आपके डीमैट अकाउंट के साथ भी जोड़ा जाएगा।
  • ईमेल आईडी: आपके पास एक एक्टिव ईमेल आईडी जैसे कि Gmail, Yahoo, Hotmail इत्यादि की होनी चाहिए जिसको कि आपके डिमैट अकाउंट के साथ जोड़ा जाएगा।
  • शुरुआती पूंजी: स्वभाविक है कि स्टॉक मार्केट में निवेश करने के लिए आपके पास कुछ जमा पूंजी होनी चाहिए जिसको कि आप निवेश करके उससे लाभ कमा सकते हैं। जैसे कि मैंने ऊपर बताया है कि जरूरी नहीं है कि आपके पास लाखों हो आप स्टॉक मार्केट को सीखने के लिए ₹500 से भी शुरुआत कर सकते हैं।

सभी औपचारिकताएं पूर्ण करने के उपरांत अब आप स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग के लिए पूर्ण रूप से तैयार हो जाएंगे।
आप ऊपर दिए गए वीडियो की मदद से अपना डिमैट अकाउंट सिर्फ 15 मिनट में हो सकते हैं।

यदि आप शेयर खरीदना चाहते हैं तो आपको केवल अपने स्टॉक ब्रोकर को कंपनी का नाम, एंट्री प्राइस तथा खरीदे जाने वाले शेयर की संख्या की जानकारी प्रदान करनी होगी।

इसी प्रकार यदि आप शेयर बेचना चाहते हैं तो आपको अपने स्टॉक ब्रोकर को कंपनी का नाम, एग्जिट प्राइस तथा बेचे जाने वाले शेयर की संख्या की जानकारी प्रदान करनी होगी।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या बिना पैन कार्ड डिमैट अकाउंट खोला जा सकता है?

नहीं, अकाउंट खोलने के लिए आपके पास पैन कार्ड होना अनिवार्य है। पैन कार्ड के बिना डिमैट अकाउंट नहीं खोला जा सकता।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.